गौ माता से जुड़ी चीजें आजीवन रखेगी स्वस्थ: जया किशोरी जी

सुरेन्द्र, बेगूसराय।
चर्चित बिहार गौ माता हम सब की मां ही नहीं, भगवान की भी लाडली हैं। उनसे जुड़ी हर चीज जरूरी है। खानपान में गौ माता से जुड़ी चीजें हमें हमेशा स्वस्थ रखती है। आजकल लोग गौ सेवा, गौ पालन पर ध्यान नहीं देकर सिर्फ भावना से गौ माता कहते हैं। उनके बारे में वेद, पुराण, साहित्य, धर्म ग्रंथ पढ़ा जाय, जाना जाय तो पता चलेगा कि हमारे जीवन में गौ माता कितनी उपयोगी हैं। उक्त बातें देश की सुप्रसिद्ध कथावाचक जया किशोरी जी ने पंचगव्य एवं आयुर्वेदिक अनुसंधान केंद्र द्वारा बेगूसराय में संचालित गो मंदिर के निरीक्षण बाद हिन्दुस्थान समाचार से कही। उन्होंने कहा कि गौ माता से जुड़ी तमाम चीजों को अपने खान-पान से जोड़ें तो हम गंभीर बीमारियों से मुक्त रह सकते हैं। गौ माता का दूध, घी, दही, छाछ, गोमूत्र, गोबर से बड़ी बड़ी गंभीर बीमारियों की दवाएं बनती है। जब उन चीजों से बनी दवा हमारे जीवन के लिए उपयोगी हो सकता है तो गौमाता के संपर्क में रहने से हमें कितना लाभ होगा, इसका सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि केमिकल और केमिकल से बनी चीजें हम सबके शरीर के लिए बहुत खराब है। पूर्वजों को इतनी बीमारियां नहीं होती थी। जबकि वो बड़े बड़े काम करते थे। लेकिन आज छोटे-छोटे बच्चों को बड़ी-बड़ी बीमारियां हो रही है। यह खान-पान का प्रभाव है। हम सब विलुप्त होते जा रहे अधिक से अधिक नेचुरल एवं देसी चीजें खोजें, उसका उपयोग करें, उसका संरक्षण, संवर्धन करें तो बीमारियां हमारे पास फटकेगी भी नहीं। गो मंदिर की व्यवस्था देखने के बाद उन्होंने कहा कि आज तक सैकड़ों गौशाला घुम चुकी हैं। कई गौशाला का बहुत गहनता से अध्ययन किया। मात्र दो से चार प्रतिशत गौशाला में ही गौमाता स्वस्थ दिखती हैं। पहली बार ही बेगूसराय आयी हूं, लेकिन प्रवचन में उमड़ी भीड़ ने एहसास करा दिया कि बेगूसराय में वह सब है जो बिहार में कहीं और नहीं। यहां गौ मंदिर की स्वस्थ देसी गौ माता कह रही हैं कि देसी गोवंश की रक्षा एवं संरक्षण-संवर्धन के लिए यहां के लोग सजग हैं तथा सेवा भाव से उनका पालन हो रहा है। भ्रमण के दौरान अनुसंधान केंद्र के सचिव अतुल अग्रवाल एवं डॉ रमण कुमार झा ने गो मंदिर, देसी गाय एवं देसी अनाज के संवर्धन के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी जया किशोरी जी को दिया। जिसके बाद उन्होंने विलुप्त हो रहे देसी अनाजों के प्रति लोगों को जागरूक होने का आह्वान किया। मौके पर विश्व हिंदू परिषद के गौ रक्षा प्रमुख पंकज कुमार सिंह, डॉ आर एन झा, डॉ विजय कुमार सिंह, पंडित महेश शर्मा, अरुण विभानियां, आरती विभानियां, दीपिका अग्रवाल, निलेश जी, अनिल मिश्र, राजेश मिश्र, किरण शर्मा, रिद्धि, सिद्धि, आदित्य आदि मौजूद थे।