तेजी से चल रहा है अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का मिशन साहसी

सुरेन्द्र, बेगूसराय।
चर्चित बिहार अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के द्वारा छात्राओं में आत्मरक्षा को लेकर चलाया जा रहा मिशन साहसी जोरों पर है। बेगूसराय जिला में 12 जगहों पर प्रशिक्षण शिविर लगाया गया है। इस राष्ट्रव्यापी कार्यक्रम के तहत गुरुवार को विकास विद्यालय डुमरी में मिशन साहसी का शुरुआत किया गया। विकास विद्यालय के निदेशक राज किशोर सिंह, समाजसेवी संजय गौतम, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य अजीत चौधरी, एसबीएसएस कॉलेज अध्यक्ष आयुष कुमार ईश्वर एवं माध्यमिक शिक्षक संघ के नगर अध्यक्ष रणधीर कुमार ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया। मौके पर विद्यालय के निदेशक राज किशोर सिंह ने कहा कि अभाविप द्वारा छात्राओं की सुरक्षा को लेकर चलाए जा रहे इस कार्यक्रम से काफी लाभ मिलेगा तथा उनमें असुरक्षा की भावना दूर होगी। समाजिक कार्यकर्ता संजय गौतम ने कहा कि आज महिलाएं एवं छात्राएं महत्वपूर्ण पदों पर काबिज हैं। लेकिन अभी भी अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रही हैं। उनके साथ दुर्व्यवहार छेड़खानी की घटना हो रही है। इससे पता चलता है की डर का माहौल बना हुआ है। इस डर को दूर करने का बीड़ा राष्ट्रवादी छात्र संगठन ने उठाया है। जो कि मील का पत्थर साबित होगा। मौके पर राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य अजीत चौधरी ने कहा कि आज भी छात्राएं स्कूल, कॉलेज या किसी काम से घर से बाहर निकलती हैं तो लौटने में देर होने पर अभिभावक चिंता में पड़ जाते हैं। उसी असुरक्षा और डर को दूर करने तथा छात्राओं को आत्मनिर्भर, स्वावलंबी बनाने के लिए पूरे देश में लाखों छात्राओं को ताइक्वांडो एवं कराटे में निपुण किया जा रहा है। कॉलेज अध्यक्ष आयुष कुमार ईश्वर ने कहा कि अब छात्राओं के साथ छेड़खानी करने वाले की खैर नहीं है। छात्राएं खुद के साथ अपने बहनों की भी रक्षा करेगी। वहीं, शिक्षक नेता रणधीर कुमार ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम से समाज में एक नई दिशा मिलेगी।धन्यवाद ज्ञापन एसएफटी प्रमुख आर्यन सिन्हा ने किया।
मौके पर ताइक्वांडो के ब्लैक बेल्ट श्याम कुमार द्वारा करीब 200 छात्राओं को ताइक्वांडो ट्रेनिंग दिया गया।