वेलनेस सेंटर बंद मिला, कोर्ट का आदेश-मंत्री चौबे व विधायक पर केस दर्ज करें

0
26

चर्चित बिहार : बक्सर. केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे, सदर विधायक संजय तिवारी सहित सिविल सर्जन डाॅ केके लाल समेत अन्य अज्ञात स्वास्थ्यकर्मियों पर सिविल कोर्ट ने एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। वेलनेस सेंटर में 24 घंटे सातों दिन इलाज के लिए जनता के बीच झूठी अफवाह व धोखा देने के आरोप में एक महिला की ओर से दायर परिवाद पर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी शशिकांत चौधरी ने यह आदेश दिया।

अधिवक्ता विशाल कुमार ने बताया कि उनकी मुवक्किल 16 सितंबर को आयुष्मान भारत के तहत पुराना सदर अस्पताल में खुले वेलनेस सेंटर में इलाज कराने के लिए गई थी। पर यह बंद था। जबकि महज एक दिन पहले 15 सितंबर को उद्घाटन में प्रतिनिधियों ने दावा किया था कि यह चौबीस घंटे व सातों दिन खुला रहेगा। इस झूठ पर पीड़ित महिला ने कोर्ट में इन सभी के खिलाफ केस दर्ज किया।

24 घंटे इलाज की बात झूठी निकली : पीड़ित ने दायर परिवाद में कहा कि एक दिन पहले उद्घाटन में बताया गया था कि यहां 24 घंटे व सातों दिन मरीजों का इलाज होगा। लेकिन वहां इलाज नहीं मिलने के कारण परिजनों ने देर रात किसी तरह से निजी क्लीनिक में इलाज कराया। इसकी जानकारी सीएस, सीएम, सुप्रीम कोर्ट को पत्र लिखकर दी थी।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments