न्याय के साथ विकास की अवधारणा को घर-घर तक पहुंचाना ही लक्ष्य

न्याय के साथ विकास की अवधारणा को घर-घर तक पहुंचाना ही लक्ष्य

बिहार के नवनियुक्त विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री सुमित कुमार सिंह ने अरनव मीडिया नेटवर्क प्राइवेट लिमिटेड के संपादक अनूप नारायण सिंह के साथ एक विशेष बात में बातचीत में कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामाजिक न्याय की अवधारणा को मजबूत करना न्याय के साथ विकास को घर-घर तक पहुंचाना मुख्य लक्ष्य है।बिहार में विकास की गति को और तीव्रता प्रदान करने के लिए राज्य सरकार पूरी तरह कृत संकल्पित है सीमित संसाधनों में बेहतर कार्य कैसे किया जाए इसके लिए पूरी टीम भावना के साथ मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में पूरा मंत्रिमंडल लगा हुआ है राज्य के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री के रूप में उन्होंने राज्य की जनता से तीन महीने का समय मांगा तथा कहा कि विभाग को और सुदृढ़ बनाएंगे आम लोगों की जो अपेक्षाएं हैं उस पर खरा उतरने की कोशिश करेंगे बिहार के इंजीनियरिंग कॉलेजों को संसाधनों से युक्त किया जाएगा राज्य के हुनरमंद युवाओं को दक्षता प्रदान करने की दिशा में भी कारगर कदम उठाए जाएं अपने विधानसभा चकाई को चंडीगढ़ बनाने के अपने वादे को दोहराते हुए उन्होंने कहा चकाई के लोगों ने उन पर विश्वास जताया है राज्य मंत्रिमंडल में चकाई कि जनता के आशीर्वाद से पहुंचे हैं उन्होंने क्षेत्र की जनता से विकास का जो वादा किया है उसे पूरा करने की दिशा में लगे हुए हैं विकास कार्य द्रुत गति से चल रहा है मंत्री के रूप में भी क्षेत्र के विकास के लिए जो कुछ करना होगा वह उसे पूरा करेंगे उन्होंने कहा कि बिहार का कोई भी व्यक्ति उनके मंत्रालय से संबंधित कार्य के सिलसिले में उनसे विभाग में आकर मिल सकता है जो पटना के विश्वेशरैया भवन परिसर में विज्ञान और प्रौद्योगिकी भवन में अवस्थित है।