यूपीएससी में परचम लहराने वाले चकाई के लाल प्रवीण के परिजनों से IPS अधिकारी गृह विभाग के विशेष सचिव विकास वैभव ने दूरभाष पर बात कर दी शुभकामनाएं

0
30

जमूई जिला के चकाई बाज़ार के रहने वाले है प्रवीण वर्णवाल,IG विकास वैभव ने कहा माता-पिता के सपनो को पूरा करेगा प्रवीण

बिधुरंजन उपाध्याय

JAMUI : बिहार के जमुई जिला के चकाई बाजार निवासी सीताराम वर्णवाल के पुत्र प्रवीण कुमार ने यूपीएससी में परचम लहराया है.प्रवीण को सातवा स्‍थान मिला है.रिजल्‍ट जारी होते ही उन्‍हें बधाई देने वालों का तांता लग गया.प्रवीण की सफलता से पूरे चकाई बाजार में जश्न का माहौल है.उसके घर पर बधाई देने वालों की भीड़ उमड़ रही है.

इस मौके पर बिहार के वरीय IPS अधिकारी गृह विभाग के विशेष सचिव विकास वैभव ने रविवार को प्रवीण के पिता सीताराम वर्णवाल एवं उनकी माता वीणा देवी से दुरभाष पर बात कर प्रवीण की सफलता को लेकर बधाई दिया है.IPS अधिकारी विकास वैभव ने कहा की प्रवीण ने जमूई जिला सहित पूरे बिहार एवं अपने देश का नाम रौशन किया है.उन्होंने कहा कि प्रवीण की रिजल्ट की खबर सुनकर काफी अच्छा लगा.आपने अपने बच्चों को काफी अच्छा संस्कार दिया है.आने वाली सभी पीढ़ियां भी इस तरह अपने देश का नाम रौशन करें.श्री वैभव ने कहा जितना गौरवान्वित आप महसूस कर रहे है निश्चित ही आपके परिवार और बच्चे भी कर रहे होंगे.प्रवीण जहां भी रहे सभी को गौरवान्वित करते रहे,ऐसी ही हमारी आप सभी के लिए शुभकामनाएं है.प्रवीण को जब भी कभी हमारी जरूरत हो निश्चित ही सहयोग मिलेगा.उनके उज्ज्वल भविष्य की हम सभी कामना करते है.बता दे कि श्री विकास वैभव के आदेश पर पत्रकार बिधुरंजन उपाध्याय ने प्रवीण के घर पहुँचकर उनके माता-पिता से दूरभाष पर गृह विभाग के विशेष सचिव विकास वैभव से बात

बता दे की जमूई जिला के सुदूरवर्ती इलाके एवं लाल गलियारे के रूप में अपनी पहचान बना चुके चकाई प्रखंड मुख्यालय से महज आधे किलोमीटर पर स्थित चकाई बाज़ार निवासी प्रवीन वर्णवाल बचपन से ही मेधावी था। उसकी प्रारंभिक शिक्षा-दीक्षा झारखंड के देवघर जिला के जसीडीह स्थित रामकृष्ण विद्यालय से हुई थी.बाद में प्रवीण पटना से सीबीएससी से मैट्रिक एवं इंटर की परीक्षा पास की.उसने कानपुर आईआईटी से पढ़ाई कर दिल्ली में दो साल से यूपीएससी की तैयारी कर रहा था. उसने दूसरे प्रयास में यह सफलता हासिल की है.

प्रवीण की सफलता से उसकी मां वीणा देवी,बड़े भाई धनंजय वर्णवाल,बहन दीक्षा वर्णवाल एवं चाचा रामेश्वर लाल वर्णावाल खुशी से झूम रहे हैं.चकाई बाजार में मेडिकल दुकान चलाने वाले सीताराम वर्णावाल ने काफी गरीबी में अपने पुत्र प्रवीण को पढ़ाया-लिखाया और आज प्रवीण ने पूरे चकाई का नाम देश स्तर पर ऊंचा किया है। प्रवीण की मां वीणा देवी ने कहा कि प्रवीण सिर्फ मेरा बेटा ही नहीं पूरे जमुई जिला का बेटा है और उम्मीद है कि वह आगे चलकर समाज सेवा के साथ-साथ देश की भी सेवा करेगा.

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments