MUZAFFARPUR : भारत बंद के दौरान अपने ऊपर हमले का ड्रामा रचने वाले पप्पू यादव की आज मुजफ्फरपुर की SSP हरप्रीत कौर ने पोल खोल दी.

चर्चित बिहार मुजफ्फरपुर : भारत बंद के दौरान अपने ऊपर हमले का ड्रामा रचने वाले पप्पू यादव की आज मुजफ्फरपुर की SSP हरप्रीत कौर ने पोल खोल दी. SSP ने पप्पू यादव के सभी आरोपों पर एक-एक कर जवाब दिया. अपने चरित्र हनन की कोशिशों से आहत SSP ने पूछा- नारी बचाओ यात्रा पर निकले पप्पू यादव एक महिला अधिकारी का चरित्र हनन कर किस नारी को बचा रहे थे.

पप्पू के आरोपों का SSP ने दिया जवाब

दरअसल, भारत बंद के दौरान पप्पू यादव ने अपने उपर हमले का आरोप लगाया था. लेकिन घटनास्थल का वीडियो वायरल हो गया था, जिसमें पप्पू यादव सड़क जाम करने वालों से बड़े आराम से बात कर रहे थे. कलई खुलने के बाद पप्पू यादव ने मुजफ्फरपुर की SSP हरप्रीत कौर पर ढ़ेर सारे आरोप लगा दिये थे. पप्पू ने कहा था कि मुजफ्फरपुर की SSP रात में एक पत्रकार को लव लेटर लिखती है. SSP उनकी हत्या करने की साजिश रच रही थी. पप्पू ने कहा था कि मुजफ्फरपुर की SSP ने ब्रजेश ठाकुर को संरक्षण दिया था. सांसद के आरोपों से आहत SSP हरप्रीत कौन ने आज प्रेस कांफ्रेंस की और एक-एक कर पप्पू यादव के आरोपों का जवाब दिया.

SSP के तथ्यों से फिर खुली पप्पू यादव की पोल

हरप्रीत कौर ने पप्पू यादव के हर आरोप का बिंदुवार जवाब दिया. देखिये पप्पू के आरोप और SSP के जवाब

1. पप्पू ने कहा था कि उनके मुजफ्फरपुर आने की सूचना के बावजूद पुलिस ने सुरक्षा नहीं दिया. SSP ने पप्पू यादव का वो कार्यक्रम मीडिया के सामने रखा जो सांसद ने प्रशासन के पास भेजा था. उसमें 6 सितंबर को मधुबनी में रहने का कार्यक्रम था. पप्पू यादव के मुजफ्फरपुर जाने का कोई जिक्र नहीं था. पप्पू यादव या उनके किसी समर्थक ने मुजफ्फरपुर आने की कोई जानकारी नहीं दी थी.

2. पप्पू ने कहा कि उन पर हमला हुआ जिसमें गाड़ी और मोबाइल टूट गया. बार-बार कहने पर भी पुलिस नहीं आयी. SSP उनकी जान लेने की साजिश रच रही थी. SSP ने जबाव दिया- पप्पू यादव का फोन आने के बाद डीएसपी को वहां भेजा गया था. वहां ना हमले में टूटी गाड़ी मिली और ना ही टूटा मोबाइल. पुलिस ने उनसे हमले में टूटा सामान मांगा लेकिन कुछ नहीं दिया गया. बार-बार कहने के बावजूद पप्पू यादव या उनके किसी समर्थक ने कोई FIR दर्ज नहीं करायी. घटनास्थल का जो वीडियो सामने आया है उसमें पप्पू यादव लोगों से बात कर रहे हैं. फिर पुलिस कार्रवाई किस आधार पर करती? SSP ने पूछा कि पप्पू यादव से उनकी कौन सी दुश्मनी है कि वे उन्हें मरवाने की साजिश रचेंगी.

3. पप्पू यादव ने कहा कि SSP ने ब्रजेश ठाकुर को संरक्षण दिया. SSP ने कहा कि मुजफ्फरपुर के आसरा गृह में हुई घटना उनके कार्यकाल से पहले की है. हकीकत ये है कि उनके नेतृत्व में पुलिस ने ब्रजेश ठाकुर को गिरफ्तार कर जेल भेजा और दूसरी कार्रवाई की.

चरित्र हनन के आरोपों से आहत हुई SSP

पप्पू यादव ने कहा था कि मुजफ्फरपुर की SSP रात में एक पत्रकार को लव लेटर भेजती हैं. SSP हरप्रीत कौर ने पूछा कि एक महिला अधिकारी के चरित्र हनन का हक पप्पू यादव को किसने दिया. क्या उनके पास इसका कोई सबूत है? पप्पू यादव नारी बचाओ यात्रा करने जा रहे थे. क्या एक महिला का चरित्र हनन करके वो नारी को बचाने चले थे.

पुराने ड्रामेबाज रहे हैं पप्पू यादव

सियासी जमीन तैयार करने के लिए बेचैन पप्पू यादव ड्रामे के लिए कुख्यात रहे हैं. ऐसे कई मौके आये हैं जब उनका झूठ पकड़ा गया है. एक बार फिर उनकी खूब फजीहत हुई है.