बिहार: रालोसपा के उपेंद्र कुशवाहा ने दिए महागठबंधन में जाने के संकेत, पासवान बोले- मतभेद नहीं, साथ चुनाव लड़ेंगे

0
18

चर्चित बिहार पटना : राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने शनिवार शाम को महागठबंधन (राजद, कांग्रेस और हम) के साथ जाने के संकेत दिए। पटना में एक कार्यक्रम के दौरान कुशवाहा ने कहा, ” यदुवंशी (यादव समाज) का दूध और कुशवंशी (कुशवाहा समाज) का चावल अगर मिल जाए तो सबसे स्वादिष्ट खीर तैयार होगी। बिहार में जब इतने यादव हैं तो गंगा में दूध की कोई कमी नहीं होगी।” दरअसल, रालोसपा ने पिछला आम चुनाव एनडीए के साथ लड़ा था। अब जदयू के एनडीए में शामिल हो जाने के बाद भाजपा, रालोसपा और लोजपा के बीच सीटों के बंटवारे पर सहमति नहीं बन पा रही है।

उपेंद्र कुशवाहा के बयान पर केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने रविवार को कहा कि एनडीए में कोई मतभेद नहीं है। भाजपा, जदयू, लोजपा और रालोसपा एक साथ चुनाव लड़ेंगें। सभी 40 सीटों पर जीत दर्ज करेंगे। उधर, राजद के नेता तेजस्वी ने ट्वीट कर कहा-  “प्रेमभाव से बनाई गई खीर में पौष्टिकता, स्वाद और ऊर्जा की भरपूर मात्रा होती है। यह एक अच्छा व्यंजन है।”

राजद ने कहा- कुशवाहा का महागठबंधन में स्वागत: राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कुशवाहा के खीर वाले बयान का समर्थन किया है। तिवारी ने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा अच्छे नेता हैं, लेकिन गलत जगह पर हैं। कुशवाहा एनडीए छोड़कर जल्द हमारे गठबंधन में आ जाएं। वे अगर हमारे साथ आएंगे तो हम खुले दिल से उनका स्वागत करेंगे।

एनडीए में खींचतान की वजह: दरअसल, जदयू का कहना है कि राज्य में वह बड़े भाई की भूमिका है। इसलिए उसे लोकसभा चुनाव में सबसे ज्यादा 25 सीटें मिलना चाहिए। वहीं, लोजपा 7 और रालोसपा कम से कम 4 सीटें मांग रही है। अगर ऐसा होता है तो भाजपा को सिर्फ 4 सीटें मिलेंगी।

बिहार में अभी किस पार्टी के कितने सांसद

कुल सीटें: 40 
– भाजपा: 23
– लोजपा: 6
– रालोसपा: 3
– जदयू: 2

 

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments