रिटायर्ड कमिश्नर हत्या केस का खुलासा: पति को पीट रही थी पत्नी, बचाने आए केयर टेकर ने दबाया गला

पटना.  गुरुवार की रात लघु सिंचाई विभाग के रिटायर्ड कमिश्नर हरेंद्र प्रसाद सिंह और उनकी पत्नी स्वप्ना दास गुप्ता के हत्या के मामले में पुलिस ने खुलासा किया है। शनिवार दोपहर को पटना के एसएसपी मनु महाराज ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि केयर टेकर शोएब ने कमिश्नर की पत्नी की हत्या की थी।

ति हरेंद्र को पीट रही थी स्वप्ना
मनु महाराज ने बताया कि गिरफ्तार केयर टेकर से हुई पूछताछ और घटना स्थल से मिले साइंटिफिक एविडेंस से पुलिस प्रथम दृष्टया इस नतीजे पर पहुंची है कि कमिश्नर की पत्नी की हत्या केयर टेकर ने की थी। गुरुवार की रात तीज में होने वाले खर्च को लेकर पति-पत्नी के बीच झगड़ा हुआ था। दोनों पहले भी झगड़ते थे। पति हरेंद्र प्रसाद की चीख सुन बाहर सोफा सेट कर रहा केयर टेकर शोएब घर के अंदर गया था। शोएब ने देखा कि हरेंद्र जमीन पर पड़े हैं। उनका सिर फट गया था और पत्नी स्वप्ना दास उन्हें पीट रही थी। इसी पिटाई के चलते हरेंद्र की मौत हुई।

शोएब ने दबा दिया स्वप्ना का गला
शोएब ने हरेंद्र को बचाने की कोशिश की तो स्वप्ना ने उस पर हमला कर दिया। शोएब और स्वप्ना के बीच हाथापाई हुई। इसी दौरान शोएब ने स्वप्ना का गला दबाया और जमीन पर गिरा दिया। स्वप्ना के दिल में पेस मेकर लगा था। जमीन पर गिरते ही उसकी भी मौत हो गई।

खून लगे शर्ट से पकड़ा गया केयर टेकर
हत्या की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस को इस बात का अंदेशा हो गया था कि घर के अंदर के व्यक्ति ने ही वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस को शोएब के रूम से एक शर्ट मिला था, जिसपर खून के दाग थे। पूछे जाने पर शोएब ने बताया कि ये रंग के निशान हैं, लेकिन एफएसएल की टीम ने जांच के बाद बता दिया कि ये रंग नहीं इंसानी खून के दाग हैं। इसके बाद कराई से हुई पूछताछ में शोएब टूट गया और उसने अपना गुनाह कबूल करते हुए पूरे वारदात के बारे में बताया।

बेडरूम से मिले थे दोनों के शव
हरेंद्र और उनकी पत्नी स्वप्ना के शव उनके घर बुद्धा कॉलोनी के दुजराचक, मुर्गा फार्म गली स्थित बी-6 के प्रथम तल्ले के बेडरूम से मिले थे। सिर व चेहरे पर जख्म के निशान थे। हरेंद्र ने दो शादियां की थीं। पहली पत्नी कंकड़बाग में रहती है। उनसे दो बेटे हैं, जबकि दूसरी पत्नी स्वप्ना से एक बेटा ब्रजेंद्र प्रसाद सिंह और एक बेटी गेली