बिहार: राज्य के 5 लाख संविदा कर्मियों को मुख्यमंत्री ने दिया तोहफा, स्थायी होगी सेवा: सरकारी कर्मियों की तरह मिलेगा वेतन और बोनस

चर्चित बिहार पटना.स्वतंत्रता दिवस पर राज्य के संविदा कर्मियों को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तोहफा दिया है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार के ऑफिसों में संविदा पर काम कर रहे कर्मियों की सेवा स्थायी होगी। संविदा कर्मियाें को भी सरकारी की तरह वेतन और बोनस मिलेगा। साथ ही, उन्हें सेवा से हटाए जाने पर अपील करने का अधिकार होगा।

मुख्यमंत्री के इस फैसले से संविदा पर बहाल करीब 5 लाख कर्मियों को लाभ होगा। इनमें डॉक्टर, इंजीनियर से लेकर डाटा इंट्री ऑपरेटर तक शामिल हैं। सरकारी कर्मियों के न रहने के चलते पहले इन्हें संविदा पर बहाल कर लिया गया था। इन कर्मियों को वेतन की जगह मानदेय मिलता था। बता दें कि संविदा कर्मियों में किसान सलाहकार, आशा कार्यकर्ता और ममता कार्यकर्ता शामिल नहीं हैं।

बिहार सरकार संविदा कर्मियों के वेतन में 20 से 25 फीसदी इजाफा करने पर भी विचार कर रही है। वेतन तय करने के लिए गठित कमेटी में बदलाव किया गया है। बुधवार को सीएम द्वारा की गई घोषणा उच्च सदस्यीय समिति की सिफारिश के आधार पर की गई है।