उपेंद्र कुशवाहा ने कहा-पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत चिंता का विषय; कांग्रेस बोली-मलाई खाइये और ढोंग करते रहिए

चर्चित बिहार पटना. रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा के बयान को विपक्ष ने आड़े हाथों लिया है। कांग्रेस ने कहा कि इससे बड़ा ढोंग नहीं हो सकता है कि मोदी कैबिनेट के मंत्री बोल रहे हों कि पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत चिंता का विषय है। बता दें कि कुशवाहा ने कहा था कि पेट्रोलियम पदार्थ की कीमतों में वृद्धि सही नहीं है।

जनता की चिंता है तो इस्तीफा दें कुशवाहा: कांग्रेस
कांग्रेस नेता प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि अगर कुशवाहा को सच में गरीबों की चिंता है तो वे मंत्री पद से इस्तीफा देकर विपक्ष की मांग के साथ खड़े हों। कुशवाहा जनता के डर से भयभीत होकर ऐसा बयान दे रहे हैं। जनता ऐसे नेताओं को सबक सिखाने के लिए तैयार है। कुशवाहा मलाई भी खाएंगे और बयान भी देंगे, ऐसा अब नहीं चलने वाला है।

जनता की आंख में तेल झोंक रहे कुशवाहा: हम
हिंदुस्तान आवाम मोर्चा ने कुशवाहा के बयान पर तंज कसा है। हम का का कहना है कि कुशवाहा केंद्र सरकार में मंत्री हैं और जनता की आंख में तेल क्यों झोंक रहे हैं ? पेट्रोलियम पदार्थों की कम कीमत करने की उनकी मांग दिखावा है।

प्रधानमंत्री से बात करें कुशवाहा: भाजपा
कुशवाहा के बयान पर भाजपा नेता नवल किशोर ने कहा कि जब सभी चीजों की कीमत बढ़ रही है तो पेट्रोल-डीजल की कीमत भी बढ़ रही है। मीडिया में बयान देने से पेट्रोल-डीजल की कीमत घटने वाली नहीं है। राय देने से कुछ नहीं होगा। उपेंद्र कुशवाहा को कैबिनेट में मिलकर प्रधानमंत्री मोदी से बात करनी चाहिए।