आमिर खान ने ‘लगान’ की कहानी सुनते ही कर दिया था रिजेक्ट, फिर हुआ था कुछ ऐसा

ई दिल्ली: बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट कहलाने वाले आमिर खान की पहचान हिन्दी सिनेमा में बड़ा बदलाव लाने वाले अभिनेता के तौर पर है और वह ऑस्कर नामांकन पाने वालों में भी शुमार हैं, लेकिन अभिनेता ने यह खुलासा किया कि शुरू में उन्हें ‘लगान’ फिल्म का विचार पसंद नहीं आया था, क्योंकि उन्हें इसकी कहानी थोड़ी अजीब लगी थी. आशुतोष गोवारिकर के निर्देशन में खेल की पृष्ठभूमि पर बनी इस फिल्म को समीक्षकों से काफी तारीफ मिली. वर्ष 2001 में आयी यह फिल्म बेहद सफल भी रही. इतना ही नहीं यह फिल्म अकादमी पुरस्कार में सर्वश्रेष्ठ विदेशी भाषा फिल्म वर्ग के लिये नामांकित भी हुई.

आमिर खान की एक्ट्रेस ने ‘दिलबर..’ पर किया ऐसा डांस, देखकर भूल जाएंगे Dangal का अखाड़ा…

इंडियन स्क्रिप्टराइटर्स एसोसिएशन के दूसरे संस्करण से इतर आमिर ने कहा, ”जब मैंने ‘लगान’ की कहानी सुनी तो पांच मिनट बाद ही मैंने इसे नकार दिया… जब मैंने सुना कि यह फिल्म ऐसे लोगों की कहानी है जो बारिश नहीं होने के कारण ‘लगान’ नहीं चुका पा रहे हैं और फिर वे ब्रिटिश लोगों के साथ क्रिकेट खेलते हैं. मैंने सोचा ये कैसी अजीब सोच है? मैंने आशुतोष से कहा कि यह बहुत अजीब कहानी है. मैंने उनसे कुछ अलग कहानी लाने के लिये कहा.” तीन महीने बाद गोवारिकर ने उसी कहानी के साथ आमिर से फिर संपर्क किया लेकिन उस वक्त तक वह पूरी पटकथा लिख चुके थे. आमिर ने कहा कि शुरू में वह चिढ़े, लेकिन गोवारिकर ने इस काम को जारी रखा.

आमिर खान चीन के सुपरस्टार हीरो, इस वजह से बॉलीवुड डांस है पॉपुलर

उन्होंने कहा, ‘‘जब मैंने कहानी सुनी, तब मैं उसमें खो गया. ‘लगान’ की अंतिम पटकथा मुझे बेहद पसंद आयी और मुझे यह अविश्वसनीय लगा. मैंने उनसे कहा कि यह लाजवाब कहानी है और मुख्यधारा सिनेमा का रिकॉर्ड तोड़ेगी. लेकिन मैं इसके लिये हां कहने से डर रहा हूं. मैं इसे नहीं कर सकता.’’ 53 वर्षीय अभिनेता ने गोवारिकर को फिल्म के लिये अन्य अभिनेताओं से संपर्क करने को कहा और फिल्म की पटकथा में कुछ बदलाव लाने का सुझाव दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *