बिहार: कुएं से निकला एके-47 का जखीरा, देखकर मची सनसनी

चर्चित बिहार मुंगेर : मुंगेर में एक बार फिर पुलिस ने एके 47 रायफल का जखीरा बरामद किया है। पुलिस ने बरदह और तौफीर गांव के बीच बहियार में स्थित एक कुएं से 12 एके 47 रायफल बरामद किया है। पुलिस को यह कामयाबी हजारीबाग से तौफीर आलम की गिरफ्तारी के बाद मिली। उसकी निशानदेही पर एसपी बाबू राम के नेतृत्व में एएसपी अभियान राणा नवीन सिंह और एएसपी हरिशंकर ने रात भर छापामारी कर 12 एके 47 रायफल बरामद कर लिया।
एके 47 की बरामदगी की पुष्टि करते हुए एसपी बाबू राम ने कहा कि 29 अगस्त को मोहम्मद इमरान को जमालपुर पुलिस ने तीन एके 47 रायफल के साथ गिरफ्तार किया था। इसके बाद से पुलिस तस्करी को लेकर लाए गए एके 47 रायफल की बरामदगी को लेकर लगातार छापामारी कर रही थी।

बाद में मोहम्मद शमशेर और इमरान की बहन रिजवाना को पुलिस ने तीन एके 47 रायफल के साथ बरदह गांव से गिरफ्तार किया था। जबलपुर आर्डिनेंस डिपो से तस्करी कर 60 से 70 एके 47 रायफल मुंगेर आने की बात सामने आई थी।

इस जानकारी के बाद से पुलिस लगातार तस्करी कर लाए गए एके 47 की बरामदगी को लेकर प्रयासरत थी। बाद में मोहम्मद शमशेर को पुलिस रिमांड पर लाकर पूछताछ की गई। पूछताछ के दौरान मिली जानकारी के बाद आमना खातून के घर के पीछे जमीन के नीचे गाड़ कर रखा गया दो एके 47 रायफल बरामद किया गया। वहीं, छापामारी के दौरान मोहम्मद एजाजुल, मोहम्मद भुट्टो के घर से दो डीबीएल बंदूक मिला।

इसी दौरान पुलिस को हथियार तस्कर मु. मंजीत उर्फ मंजी की भूमिका के बारे में सूचना मिली। पुलिस मंजीत की टोह में लगी ही थी कि यह सूचना मिली कि बरदह गांव में मोहम्मद एजाजुल हक का पुत्र तौफीर कारतूस से भरा पालिथिन शमशेर के घर फेंक कर भाग गया है। पालिथीन से पुलिस ने एके 47, इंसास, एसएलआर आदि की गोलियां बरामद की थी। इसके बाद पुलिस के टारगेट पर तौफीर भी आ गया था।

एएसपी अभियान राणा नवीन सिंह के नेतृत्व में विशेष पुलिस टीम ने हजारीबाग से तौफीर को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी के बाद तौफीर ने पुलिस को एके 47 की तस्करी के बारे में अहम जानकारियां दी। तौफीर ने ही पुलिस को यह जानकारी दी कि बरदह और तौफीर के बीच बहियार में बने कुएं में कई एके 47 रायफल छुपा कर रखा गया है। इसी जानकारी के आधार पर पुलिस की टीम ने गुरुवार की देर रात छापामारी कर 12 एके 47 रायफल बरामद कर लिया।