तलाक की अर्जी पर तेजप्रताप ने लिखा- टूटे से फिर ना जुटे, जुटे गांठ परि जाए

चर्चित बिहार पटना. बिहार के पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव ने अपने ट्विटर पर 23 दिन बाद ट्वीट किया- टूटे से फिर ना जुटे, जुटे गांठ परि जाए। ट्वीट में तेजप्रताप यह मंशा जता रहे हैं कि उनका और ऐश्वर्या का टूटा हुआ रिश्ता जुड़ने पर भी गांठ रह जाएगी।

 

 तेजप्रताप ने कवि रहीम के दोहे- रहिमन धागा प्रेम का, मत तोड़ो चटकाय। टूटे से फिर ना जुड़े, जुड़े गांठ परि जाय का उदाहरण दिया है। लेकिन ट्वीट में उन्होंने जुड़े की जगह जुटे लिखा। तेजप्रताप ने ऐश्वर्या से तलाक के लिए कोर्ट में अर्जी दी है, सुनवाई 27 नवंबर को होनी है।

 

इधर, लालू परिवार 24 नवंबर को उनके वापस पटना घर लौटने की आस लगाए हुए है। उनके दोस्तों ने ही सूचना दी थी कि तेजप्रताप ने अपनी मां (राबड़ी देवी) को बताया है कि कार्तिक पूर्णिमा पर संगम स्नान करने के बाद पटना लौटेंगे। पर उनके इस ट्वीट के बाद लग रहा है कि वे लौट आए तो भी तलाक के अपने फैसले को फिलहाल टालने के मूड में नहीं हैं।

 27 को है कोर्ट में सुनवाई
राज्य के सबसे बड़े राजनीतिक परिवारों में आने वाले लालू परिवार के अंदर 2 नवंबर से जारी फैमिली ड्रामे का अंत होता नजर नहीं आ रहा। परिवारवाले चाह रहे हैं कि किसी तरह तेजप्रताप अपना फैसला बदलें। उनकी बहनें और बहनोई भी पहल कर रहे हैं।

लंबे समय से घर से बाहर

तेजप्रताप लंबे वक्त से अपने घर नहीं आए हैं। उनके मथुरा और वृंदावन में रहने की खबरें आती रहती हैं, लेकिन सबकी इंतजार इस बात का है कि तेजप्रताप शनिवार को घर वापस आएंगे या नहीं। यह भी संभव है कि तेजप्रताप कोर्ट की तारीख में शामिल होने के लिए ही पटना पहुंचे।