बेगूसराय में भीषण गर्मी व उमस के बीच बिजली कटौती से हाहाकार

चर्चित बिहार :
न्यूज़ डेस्क
अप्रैल 01/05 /2022

बेगूसराय : इस वर्ष समय से पहले भीषण गर्मी का सामना लोगों को करना पड़ रहा है। जबकि, मई व जून माह अभी बाकी ही है। देह झुलसाने वाली गर्मी व उमस के बीच बिजली की आंखमिचौनी से लोगों में हाहाकार मचा हुआ है। खासकर रात में बिजली के कटने से उपभोक्ताओं में खास नाराजगी देखी जा रही है। शहरी क्षेत्र का कोई भी ऐसा हिस्सा नहीं होगा जहां शाम छह बजे से आठ बजे रात तक व फिर नौ बजे से 10 बजे रात तक बिजली काट दी जाती है। उसके बाद घंटे दो घंटे पर बिजली का आना जाना लगा रहता है।

उपभोक्ताओं में इस बात को लेकर ज्यादा आक्रोश देखा जा रहा है कि जब बच्चों के पढ़ने का व महिलाओं को खाना बनाने का समय होता है उसी समय बिजली काट दी जाती है। जिनके घर इनवर्टर या सोलर लाइट की व्यवस्था वैसे उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है न ही विरोध कर पाते हैं। बिजली की इस आंखमिचौनी से आजिज उपभोक्ताओं में बिजली कंपनी के खिलाफ आक्रोश देखा जा रहा है।

नगर निगम के निवर्तमान उपमेयर राजीव रंजन ने कहा कि बिजली कंपनी जान बूझकर रात में बिजली काटकर लोगों को परेशान कर रही है। उन्होंने कंपनी के अधिकारी से शाम छह बजे से सुबह आठ बजे तक हर हाल में बिजली सप्लाई सुचारू रूप से देने की मांग की है। विष्णुपुर की समाजसेवी साधना देवी ने कहा कि विष्णुपुर समेत नगर निगम क्षेत्र में बिजली की कटौती से आमलोग परेशान हैं। बिजली बिल देने के बाद भी भीषण गर्मी में बिजली की कटौती किया जाना उपभोक्ताओं समेत आमलोगों के साथ सरासर नाइंसाफी है। यदि बिजली कंपनी ने बिजली सप्लाई में सुधार नहीं किया तो आंदोलन के लिए तैयार हैं। लोहियानगर निवासी सुधांशु प्रकाश पाठक ने कहा कि शनिवार को भी लोहियानगर में पांच घंटे तक बिजली कटी रही। बिजली के लगातार कटने से गर्मी की वजस से बच्चे न तो शाम में पढ़ पाते हैं, न ही रात में ठीक से सो पाते हैं।

कार्यपालक अभियंता केके सिंह ने कहा है कि शहरी क्षेत्र से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में लोकल फॉल्ट की वजह से ब्रेकडाउन के कारण बिजली कट रही है। लोकल फॉल्ट भी जल्द ही दूर कर लिया जाएगा। उपभोक्ताओं को बिजली की कमी नहीं होने दी जाएगी।