खाद्यान्न व्यवसायी हत्याकांड का उद्भेदन, दो अपराधी गिरफ्तार

सुरेन्द्र किशोरी,
चर्चित बिहार : बेगूसराय पुलिस ने चार-पांच जनवरी की रात हुए खाद्यान्न व्यवसायी हत्याकांड के उद्भेदन का दावा किया है। इस मामले में दो अपराधी को हथियार के साथ गिरफ्तार किया गया है। जबकि, मुख्य साजिशकर्ता के गिरफ्तारी के लिए ताबड़तोड़ छापेमारी चल रही है। एसपी अवकाश कुमार ने प्रेस वार्ता में बताया कि चार-पांच जनवरी की रात रिफाइनरी थाना क्षेत्र के नूरपुर निवासी राजेश कुमार साह की हत्या अपराधियों द्वारा डकैती के दौरान कर दी गई थी। जिसमें वैज्ञानिक पद्धति से किए गए अनुसंधान के बाद गठित एएसपी (अभियान) अमृतेश कुमार एवं एएसपी मनोज कुमार तिवारी के छापामारी टीम द्वारा दो अपराधी बिहट जलालपुर टोला निवासी संजय कुमार सिंह के पुत्र अमन कुमार एवं बड़ी दुर्गा मंदिर बीहट निवासी अरुण कुमार सिंह के पुत्र वीरू उर्फ जितेंद्र कुमार को गिरफ्तार किया गया। इनके पास से लूटी गई रकम में से 14 हजार आठ सौ रुपया, एक देसी कट्टा, दो गोली, घटना में प्रयुक्त दो मोबाइल एवं घटना के समय  पहना गए कपड़ा बरामद किया गया है। एसपी ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों ने स्वीकार किया है कि हाल ही में जेल से बाहर आये एफसीआई थाना क्षेत्र के बीहट इब्राहिमपुर टोला निवासी सुपारी किलर नेपो उर्फ नेपला ने घटना की साजिश रची थी। हथियार से लैस पांच अपराधियों ने पहले मृतक के घर के पास रेकी की। इसके बाद राजेश कुमार साह के घर आते ही घर आते ही लूट की घटना को अंजाम दिया गया। इस दौरान लूट का विरोध किए जाने पर गोली मारकर व्यवसायी की हत्या कर दी गई। एसपी ने बताया कि लूटे गये रकम का खुलासा नहीं हुआ है। अपराधियों ने करीब एक-डेढ़ लाख रुपया लुटा है। घटना की साजिश दो दिन पहले रची गई थी। मामला रंगदारी से भी जुड़ा हो सकता है। बेगूसराय में लगातार बढ़ रहे एवं हत्या की घटना के संबंध में एसपी ने बताया कि अपराध पर लगाम लगाने के लिए 2015 से अब तक के लूट, डकैती, हत्या समेत अन्य अपराधों में शामिल अपराधी की सूची बनाई जा रही है। उसे खंगाला जा रहा है जिसके बाद त्वरित कार्रवाई की जाएगी।