जीतन राम मांझी के घर से चल रही तेजप्रताप को बदनाम करने की साजिश, तेज प्रताप यादव ने बना लिया ब्लॉगर का वीडियो

पटना : आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने एक वीडियो जारी किया है। उन्‍होंने दावा किया कि उनको बदनाम करने के लिए बड़े स्तर पर साजिश रची जा रही है। उन्होंने सबूत के साथ सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट किया है। जिसमें एक यूट्यूबर को पीछा करते दिखते हैं। बाद में उस यूट्यूबर की गाड़ी पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी के घर के बाहर खड़ी मिलती है।

तेज प्रताप यादव ने खोली यूट्यूबर की पोल
तेज प्रताप ने कहा कि उनके खिलाफ खबरें प्‍लांट की जाती है। पटना का रहनेवाला ये यूट्यूबर तेज प्रताप यादव से मिलने उनके आवास पर पहुंचा था। इसी दौरान तेज प्रताप ने पहले से ही कैमरा लगा रखा था, वीडियो रिकॉर्ड किया। वीडियो रिकॉर्ड किए जाने के दौरान तेज प्रताप से मिलने पहुंचा वो शख्स अचानक उनके आवास से निकल कर अपनी कार से भागने लगता है। तेज प्रताप ने ये वीडियो अपने इंटरनेट मीडिया अकाउंट से पोस्‍ट किया था। युवा आरजेडी नेता रामराज यादव ने तेज प्रताप यादव पर पिटाई का आरोप लगाया है। इसके बाद से ही वो विवादों में चल रहे हैं।

पूर्व सीएम मांझी के घर के बाहर मिली कार
तेज प्रताप मिलने पहुंचे यूट्यूबर को जैसे भी कुछ गड़बड़ होने की भनक लगी वो अचानक अपनी कार से भागने लगता है। तेज प्रताप फिर अपनी कार से उसकी पीछा करते हैं। बाद में उस यूट्यूबर की कार पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के आवास के बाहर खड़ी मिलती है। वहां पर भी कार में बैठे-बैठे तेज प्रताप यादव कार का वीडियो बनाते हुए बताते हैं कि उनके खिलाफ बड़ी साजिश रची जा रही है। उन्होंने सीधे-सीछे जीतन राम मांझी को निशाने पर लिया।

यूट्यूबर का मांझी कनेक्शन समझिए
तेज प्रताप यादव ने साफ-साफ कहा कि उन्‍हें बदनाम करने के लिए इस यूट्यूबर की ओर से साजिश रची जा रही है। कहा जा रहा है कि राबड़ी देवी के आवास पर तेज प्रताप यादव ने आरजेडी नेताओं की पिटाई की है। इसी यूट्यूबर ने दावा किया था। फिर जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा के महासचिव दानिश रिजवान ने भी ये मामला उठाया था। हालांकि मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक हम के महासचिव दानिश रिजवान ने कहा कि जिस यूट्यूबर पर तेज प्रताप यादव आरोप लगा रहे हैं, उससे उनका दोस्‍ताना संबंध है।