चकाई उपप्रमुख पुत्र को मिली धमकी,एमडीएम में हो रहे धांधली को लेकर जमुई डीएम को आवेदन दिए जाने के कारण बोखलाए एमडीएम प्रखंड साधन सेवी ने झूठे मुकदमे में फंसाने की फोन पर दी धमकी

चकाई उपप्रमुख पुत्र को मिली धमकी,एमडीएम में हो रहे धांधली को लेकर जमुई डीएम को आवेदन दिए जाने के कारण बोखलाए एमडीएम प्रखंड साधन सेवी ने झूठे मुकदमे में फंसाने की फोन पर दी धमकी

चर्चित बिहार :- महिला उप प्रमुख के पुत्र को फोन पर दी धमकी,उप प्रमुख पद का कार्यकाल पूरा होने के बाद देख लेने की दी धमकी

चकाई/जमुई-एक और जमुई डीएम धर्मेंद्र कुमार भृष्टाचार पर नकेल कसने के लिए दिन रात लगे हुए वही दूसरी और भृष्टाचार में डूबे चकाई एमडीएम साधन सेवी का शिकायत से संबंधित आवेदन डीएम को दिए जाने से बोखलाए साधन सेवी अमीर दास ने फोन पर चकाई उप प्रमुख के पुत्र अमित कुमार को देख लेने की धमकी दे डाली है।

चकाई प्रखंड उप प्रमुख अनुष्ठा देवी के पुत्र अमित कुमार को फोन पर एससीएसटी एक्ट में फंसाने की धमकी चकाई प्रखंड एमडीएम साधनसेवी अमीर दास ने फोन पर दी है।इस मामले को लेकर पीड़ित ने जमुई डीएम धर्मेंद्र कुमार एवं चकाई प्रखंड विकास पदाधिकारी सुनील कुमार चांद को आवेदन देकर साधन सेवी पर कड़ी कार्रवाई करने की गुहार लगायी है।

चकाई प्रखंड उप प्रमुख अनुष्ठा देवी ने चकाई बीडीओ को दिए आवेदन में कहा है की सोमवार की सुबह 10:22 बजे मेरे पुत्र अमित कुमार के मोबाइल संख्या 7033426060 पर शैक्षणिक अंचल चकाई के एमडीएम साधन सेवी अमीर दास ने अपने मोबाइल संख्या 9801839293 से फोन कर मेरे पुत्र अमित कुमार को धमकी देते हुए कहा की मेरे खिलाफ (एमडीएम) के विरुद्ध डीएम को आवेदन क्यों दिए हो,आपको कितना कमीशन चाहिए।इस बात का विरोध कर मेरे पुत्र ने कहा की आपसे किसने कमीशन मांगा है उप प्रमुख मेरी मां है।इसी बीच साधनसेवी अमीर दास के बीच अमर्यादित शब्द का प्रयोग करते हुए कहने लगा की उपप्रमुख कितना में बिकेगी,अगर बिकेगी तो हम खरीद लेंगे।वही धमकी देते हुए कहा की कितना दिन तक उप प्रमुख रहिएगा,पद से हटते ही देख लेंगे।वही आवेदन ने फोन पर हुई बातचीत एवं धमकी का कॉल रिकॉर्डिंग का सीडी सहित कैसेट संलग्न कर पदाधिकारियों को जांच के लिए दिया गया है।

वही उपप्रमुख ने आवेदन के माध्यम से कहा की मेरे पुत्र अमित कुमार सहित परिवार के अन्य सदस्यों पर एससीएसटी एक्ट के तहत फंसाने एवं जानमाल की सुरक्षा की गुहार लगायी है।वही एक महिला जनप्रतिनिधि पर एमडीएम साधनसेवी की धमकी एवं अमर्यादित भाषा के प्रयोग से मानसिक रूप से तनाव एवं चिंतित हूं।