मीठापुर बस स्टैंड के भीतर से दुकानें हटेंगी, लंबे समय से खड़ी बसें होंगी जब्त, पार्किंग की व्यवस्था नहीं की तो शहर की 34 दुकानें होंगी बंद

पटना  : अतिक्रमण हटाओ अभियान में शुक्रवार को प्रमंडलीय आयुक्त आनंद किशोर ने कई जगहों पर स्थल निरीक्षण किया. इस दौरान उन्होंने कई महत्वपूर्ण निर्देश दिये. प्रमंडलीय आयुक्त का निरीक्षण विशेष कर मीठापुर बस स्टैंड, बोरिंग रोड चौराहा व राजापुर पुल पर रहा. दिन के लगभग चार बजे प्रमंडलीय आयुक्त मीठापुर बस स्टैंड पर चल रहे अतिक्रमण हटाओ अभियान को देखने पहुंचे. मौके पर पहुंचे आयुक्त पूरे परिसर के अंदर तक गये और कई अव्यवस्थाओं को देखा.

इस दौरान उन्होंने डीटीओ को निर्देश दिया कि परिसर में मौजूद सभी बसों के परमिट की जांच करायी जाये. इस दौरान उन्होंने कई माह से खड़े लगभग 25 बसों को जब्त कर  भारी जुर्माना लगाने के निर्देश दिये तथा नीलामी करने के निर्देश दिये. आयुक्त ने कहा कि अंदर मौजूद सभी अवैध दुकानों को एक बार में हटा लिया जाये. परिसर में कोई दुकान नहीं रहे.

नगर निगम ने मांगा प्लान, ठेकेदार को नोटिस  : अतिक्रमण हटाने के दौरान प्रमंडलीय आयुक्त ने नगर निगम से मीठापुर बस स्टैंड को लेकर प्लान मांगा, ताकि अतिक्रमण हटाने के बाद बस स्टैंड में व्यवस्थित तरीके से दुकानों को लगाया जा सके. वहीं नगर निगम की ओर से निबंधित ठेकेदार पर आयुक्त ने वहां की खराब सफाई व्यवस्था को लेकर नोटिस जारी करने के निर्देश दिये और सात दिनों के भीतर सफाई व्यवस्था को ठीक करने के निर्देश दिये. कार्रवाई नहीं करने पर उन्होंने कहा कि ऐसे ठेकेदार को हटा दिया जायेगा.
सुधा बूथ के सामने का रास्ता चौड़ा होगा : मीठापुर के बाद आयुक्त व प्रशासन की टीम बोरिंग रोड चौराहा पहुंची. वहां उन्होंने पथ निर्माण विभाग को सुधा बूथ के सामने का रास्ता चौड़ा करने का निर्देश दिया. पार्किंग स्थल को कम-से-कम आठ फुट कम करने के निर्देश दिये गये, ताकि एएन कॉलेज बोरिंग रोड की तरफ से आने वाले वाहनों को हाईकोर्ट मोड़ की तरफ जाने की सुविधा मिल सके. गौरतलब है कि बोरिंग रोड चौराहा चालू करने के बाद वाहनों के आवागमन पर उसका विशेष असर नहीं पड़ रहा है. बीच-बीच में कई बार सीधे-सीधे आने जाने वाले वाहनों को  रोक कर पुराने तरीके से ट्रैफिक को चलाना पड़ रहा है.
दो दिनों में नापी कराने का निर्देश : प्रमंडलीय आयुक्त बोरिंग रोड के बाद राजापुर पुल पहुंचे. यहां उन्होंने कहा कि पूरे चौराहे की नापी कर अगर कहीं अतिक्रमण है, तो उसे तोड़ने की कार्रवाई की जाये.
मीठापुर बस स्टैंड, बोरिंग रोड व राजापुर पुल का प्रमंडलीय आयुक्त ने किया निरीक्षण
चारों अंचलों में दिन भर चला अतिक्रमण हटाने का अभियान
शुक्रवार को चारों अंचल में अतिक्रमण हटाने का अभियान चला. इस दौरान नूतन राजधानी अंचल में राजा बाजार, बोरिंग व बोरिंग कैनाल रोड, राजापुर पुल व कंकड़बाग में मीठापुर बस स्टैंड व बांकीपुर अंचल में नाला रोड से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गयी. अतिक्रमण हटाने के दौरान कुछ एक जगहों पर स्थानीय लोगों के साथ हल्की झड़प भी हुई. नगर निगम की टीम को विरोध का सामना करना पड़ा. बावजूद इसके सभी स्थानों से अतिक्रमण हटाने का अभियान चला. वहीं जीपीओ गोलंबर के बाद पर्याप्त संख्या में पुलिस बल मुहैया नहीं होने के कारण कार्रवाई नहीं की जा सकी.
पारस अस्पताल से लेकर आईजीआईएमएस तक हटाया अतिक्रमण
नूतन राजधानी अंचल में राजाबाजार में पारस अस्पताल से लेकर आइजीआईएमएस तक अतिक्रमण हटाया गया गया. इस दौरान पारस अस्पताल के पास स्थानीय लोगों से निगम की टीम की हल्की झड़प भी हुई. निगम की टीम ने दर्जनों दुकान के आगे लगे होडिंग को हटाने की कार्रवाई की. कई शटर तोड़ गये. कई लोगों ने अनुरोध के बावजूद टीम ने कार्रवाई करने में कोई कोताही नहीं बरती. इसके अलावा बोरिंग रोड में भी हड़ताली मोड़ से लेकर राजापुर पुल तक अतिक्रमण हटा. कई भवन तोड़े गये. कई बाउंड्री वॉल को तोड़ने की कार्रवाई की गयी. निगम की टीम ने एक गाय, कई ट्रैक्टर अवैध सामान जब्त किये गये.
दिनकर गोलंबर के
पास हुआ हंगामा
नाला रोड में अतिक्रमण हटाने के दौरान गुरुवार के मुकाबले माहौल शांत रहा. इस दौरान कई सीओ सदर व नगर निगम की टीम ने कई भवनों की नामी की. जबकि कई निर्माण के बाउंड्रीवॉल तोड़े गये. इसके अलावा गोलंबर के पास ही स्थिति एक पीआरडीए आवंटित आवासीय निर्माण पर होटल चलाने वाले पर कार्रवाई की गयी. निगम ने एक लाख रुपये का जुर्माना किया. इसके अलावा डॉक्टर उत्पलकांत क्लिनिक के पास निगम की टीम को विरोध का सामना करना पड़ा. सीअो सदर ने बताया कि पीआरडीए से उनके आवंटन की अवधि समाप्त हो चुकी. वहीं पार्किंग स्थल पर निर्माण कर लिया गया है. इसकी जांच करने गये पर
अधिकारी को भवन का कागज नहीं दिखाया गया.
छह लाख का जुर्माना दस पर प्राथमिकी
 पेसू जीएम को सात दिनों के भीतर बिजली के तारों को अंडर ग्राउंड करने के निर्देश.
 राजापुर पुल पर गंगा सुरक्षा वॉल की नापी व उत्तर की तरफ स्थित ट्रांसफार्मर को अन्य कहीं शिफ्ट करने के निर्देश.
 पूरे शहर में अतिक्रमण हटाने के दौरान दस लोगों पर प्राथमिकी.
 अभियान के दौरान कुल पांच लाख 91 हजार रुपये की वसूली.
 ट्रैफिक एसपी को पर्याप्त संख्या में बोरिंग रोड चौराहा पर सिपाही प्रतिनियुक्ति के निर्देश.
 मीठापुर बस स्टैंड के निबंधक अनुदीप डेवलपर पर साफ-सफाई को नहीं करने पर शोकॉज.
अनुमंडल पदाधिकारियों ने ऐसी दुकानों की तैयार की है लिस्ट
जिलाधिकारी कुमार रवि के निर्देश पर तीनों अनुमंडल पदाधिकारियों ने अपने क्षेत्र के ऐसे दुकानों की लिस्ट तैयार की, जिनके पास अपनी पार्किंग नहीं हैं. वैसे दुकानदारों की ओर से मुख्य सड़क  पर वाहनों की पार्किंग लगाया जाती है और उनकी वजह से जाम की समस्या होती है. जिलाधिकारी के निर्देश पर ऐसे 34 दुकानदारों की लिस्ट तैयार की है. जिनको नोटिस दिया जा रहा है कि ऐसे दुकानदार अविलंब पार्किंग की व्यवस्था कर लें. व्यवस्था नहीं करने पर इनके दुकानों को बंद करा दिया जायेगा. वहीं उनमें से कुछ ऐसे भी हैं जिन्होंने आगे बढ़ कर दुकानें बनायी हैं और सड़क पर अतिक्रमण कर लिया है. उन सभी पर कार्रवाई की जा रही है.
इन दुकानदारों को दिया जा रहा नोटिस
सदर अनुमंडल-राजेंद्र टिंबर, मेसर्स बंगलोर मार्बल, मेसर्स बालाजी टाईल्स,  मेसर्स यूनाईटेड टिंबर, मेसर्स मां जगदंबा टिंबर, मेसर्स ए टू जेड मार्बल, मेसर्स क्लासिक मार्बल, मेसर्स मारुति इंटरप्राईजेज,मेसर्स मारुति, सुजुकी एरिना शो रूम, मेसर्स श्रीनाथ मार्बल,मेसर्स मनीष टिंबर,मेसर्स सूर्या ग्रेनाईट, मेसर्स गणेश टिंबर, मेसर्स अमित होटल, मेसर्स एजी टाईल्स है. इसके अलावा तारामंडल के सामने, सोना मेडिकल हॉल, एक्शन शूज, लिवर्टी शूज हैं. वहीं पटना सिटी में, जगत किशोर प्रसार बी-बाजार, कसेरा धर्मकाटा, छोटी पहाड़ी, प्राईवेयर, मिलटन- छोटी पहाड़ी, रेनबो हॉस्पीटल जीरो माइल, पुष्पावेयर हाउस, जेटलाइन कोरियर प्राइवेट लिमिटेड-जीरो माइल, स्वॉल कॉरपोरेशन सहित अन्य कई दुकानें हैं.