पटना; गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा उठा कदमकुआं इलाका, एक की मौत, दो घायल

पटना [जेएनएन]। राजधानी पटना में गुरुवार की सुबह कदमकुआं का इलाका गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा उठा। बेखौफ अपराधियों ने कदमकुआं थाने व सीआरपीएफ कैम्प से महज 100 मीटर की दूरी पर तीन लोगों पर गोलियां दागनी शुरू कर दीं जिसमें एक युवक की मौत हो गई और दो व्यक्ति घायल हो गये। अपराधियों ने फिजिकल ट्रेनर आशीष गुप्ता से विवाद के बाद इस घटना को अंजाम दिया और अंधाधुंध फायरिंग की।

घटना पटना के मोइनुल हक स्टेडियम के पास की है, जहां कदमकुआं थाने से महज चंद कदम की दूरी पर इस घटना को अंजाम दिया गया। फायरिंग की इस घटना में मार्निंग वॉक पर आये एक युवक की मौत हो गई वहीं दारोगा की महिला अभ्यर्थी के अभिभावक और एक शख्स को गोली लगी है और उनका इलाज चल रहा है।

घटना को रंगदारी और प्रेम-प्रसंग, दोनों पहलुओं से जोड़ते हुए पुलिस तफ्तीश में लगी है। पहला, घटना को रंगदारी से जोड़ते हुए बताया गया है कि दारोगा फिजिकल ट्रेनिंग करवा रहे युवक से पांच लाख की रंगदारी मांगी गई थी। युवक की मां का कहना है कि छह से सात की संख्या में आये अपराधियों ने मेरे बेटे को टारगेट कर गोली चलायी गई।

गोलीबारी की इस घटना से पूरे इलाके में भय का माहौल कायम हो गया है। वहीं, मामले में प्रेम-प्रसंग की भी बात सामने आ रही है। फिलहाल इस मामले में पुलिस कुछ भी कहने से बच रही है। हालांकि, पुलिस ने इस मामले में सभी आरोपियों को  गिरफ्तार कर लिया है और उनसे पूछताछ कर रही है। घटना के बाद कार्रवाई करते हुए एसएसपी मनु महाराज ने थाने के एएसआई को सस्पेंड कर दिया है।